article4_6

बॉलीवुड लवर्स के दिलों पर राज करती हैं बॉलीवुड की यह फिल्में

अगर आप यह सोचते है कि आप से बड़ा बॉलीवुड की दुनिया का कोई फैन नही है तो यकीनन आपने बॉलीवुड की यह फिल्में जरुर देखी होगी…और अगर नही देखी तो जनाब देर किस बात कि है उठिए दुकानदार के पास जाएं और बॉलीवुड की यह बेहतरीन फिल्मों का आनंद लेने के लिए यह सीडी ले आएं…इन फिल्मों में अपनी कला का जादू बिखेरते हुए आपको ना सिर्फ गब्बर, बादशाह, शहनशाहं दिखेंगे बल्कि उनके साथ-साथ बाबूमोशाहे और बंगाली बाला भी अपनी नजाकत और सौंदर्य का जलवा बिखेरते नजर आएंगें…यह वो फिल्में है जो भारतीय सिनेमा के इतिहास को बयान करती है… यह दुनिया की वो फिल्में है जिन्हें मरने के पहले एक बार जरुर देखें…

article4_1
Source

मुगल-ए-आजम- मुहब्बत का यादगार अफसाना- मुगल-ए-आजम| मोहब्बत, नफरत और गरुर की एक पोशीदा तस्वीर पेश करते हुए भारतीय सिनेमा के इतिहास में यह सबसे महंगी फिल्म है…इस फिल्म में मुख्य भूमिकाओं में दिलीप कुमार, पृथ्वीराज कपूर और खूबसूरत मधुबाला के द्वारा बोले गए डॉयलग आज भी सबके जहन में एक यादगार छाप छोड़े हुए है….

article4_2
Source

आनंद- इस फिल्म में राजेश खन्ना और अमिताभ बच्चन ने अपने अभिनय का लोहा मनवाते हुए.. उस पीड़ित व्यकित की दास्तान को बयान किया जो घातक बीमारी से ग्रस्त होने के बावजूद हर किसी के चेहरे पर मुस्कान लाता है…

article4_3
Source

शोले- इस फिल्म के डॉयलग सबकी जुबान पर चढ़ गए..सब दोस्त अपनी दोस्ती को पक्का करने के लिए जय-वीरु की मिसाल देने लगे तो चुलबुली लड़कियों को बंसती कह कर छेड़ा जाने लगा…मां अपने बच्चों को गब्बर का डर दिखा कर सुलाने लग गई…इस फिल्म ने बाक्स ऑफिस पर पैसों की बरसात कर दी…

article4_4
Source

मासूम- इस फिल्म में नसीरुद्दीन शाह,शबाना आजमी और जुगल हंसराज ने अपने अभिनय से सबके दिलों को छुआ…इस फिल्म को कई पुरस्कारों से नवाजा गया…

article4_5

Source

दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे- ‘शोले’ के बाद अगर कोई फिल्म लंबे समय तक  बॉक्स ऑफिस पर राज कर पाई तो वो थी ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे’… इस फिल्म को हिंदी सिनेमा की सदाहबहार रोमाटिंक फिल्म माना गया है…

article4_6
Source

गोल माल- 1979 में बनी गोलमाल एक हास्य फिल्म है…इस फिल्म के जरिए अमोल पारेकर ने एक बहुत बड़े स्टार का दर्जा हासिल किया..इस फिल्म के गाने ‘आने वाला पल’ ने सबको अपने होँठों पर गुनगुनाने पर मजबूर कर दिया…

article4_7
Source

जाने भी दो यारो- 1983 में आई फिल्म ‘जाने भी दो यारों’ ने हंसा-हंसाकर दर्शकों को कई गंभीर संदेश दिए…

article4_8
Source

मांझी- इस फिल्म में मांझी की पत्नी एक पर्वत को पार करने की कोशिश करते वक्त मर जाती है जिससे मांझी, क्रोधित होकर जोखिम भरे पहाड़ के माध्यम से एक सड़क बनाने के एक अनुसंधान पर निकल पड़ता है…खुश होने पर मांझी बोलता था शानदार, जबरदस्त,जिदांबाद | इस फिल्म को देखने के बाद आप भी यही शब्द बोलेंगें…

article4_9
Source

लगान – इस फिल्म में अंग्रेजों के जरिए लगाए गए लगान को माफ करवाने के लिए चांपानेर गाँव के कुछ लोग क्रिकेट खेलने की चुनौती को स्वीकार करते है…इस फिल्म के संगीत को तीन राष्ट्रीय पुरुस्कार से नवाजा गया…

article4_10
Source

कहानी- इस फिल्म का सबसे मजबूत पहलू है इसकी कहानी और इसका स्क्रीनप्ले..इस फिल्म को विघा बालन के उम्दा अभिनय को ध्यान में रखकर लिखा गया है…

article4_11
Source



Loading...
loading...