article298_3

जब सुनसान सड़क पर खराब हो गई इस लड़की की स्कूटी लेकिन तभी वहां पर आ पहुंचे तीन लड़के और फिर…..

जो लोग आज महिलाओं को उनके साथ हो रहे अत्याचारों के लिए उन्हें ही कसूरवार ठहराते हैं लेकिन अगर आज इस दोगले समाज से ये पूछा जाएं कि महिलाओं की इस दुर्दशा का कौन जिम्मेदार हैं तो शायद उनके पास कोई जवाब नही होगा….

article298_1

Source
वैसे ऐसा नही हैं कि अपराध या घटनाएं सिर्फ महिलाओं के साथ ही होती हैं लेकिन अधिकतर मामले ऐसे होते हैं जिनमें महिलाओं के साथ ही दुष्कर्म होते हैं….

article298_2

Source
हो ना हो ऐसे में ये सवाल खड़ा होता हैं कि तब असली मर्द कहाँ चले जाते हैं जब सच में किसी महिला को उनकी जरुरत होती हैं….हो ना हो पर तब यही मर्द इस अपराध को बढ़ाने में साथ देते हैं….

article298_3

Source
वैसे अगर आप से ये पूछा जाएं कि मर्द कौन होता है….तो जितने मुहं उतने ही आपको जवाब मिलेंगे….कोई कहेगा कि मर्द वो होता हैं जो परिवार की रक्षा करता हैं या मर्द वो होता हैं जो शरीर से बलवान होता हैं…..लेकिन अगर असल में पुछा जाये कि असली मर्द कौन होता है तो जवाब देने में इस दोगले समाज को शायद सालों बीत जाएंगे ….

article298_4

Source
आगे देखिए : क्या इसे कहते हैं असली मर्द ?



Loading...
loading...