article108_5

नशे में धुत होकर तोतों ने मचा रखी है आफत !!

थोड़ी सी जो पी ली हैं, चोरी तो नही की हैं…ओ जूली, ओ शीला…कोई हमको रोको कोई तो बचा लो,कहीं हम गिर ना पड़े…ये गाना कोई शराबी नही बल्कि तोते नशे में धुत  गुनगुना रहें हैं….
article108_1
Source


राजस्थान के के चितौड़गढ़ नामक जिले  में शराबियों ने नहीं  बल्कि तोतों ने मिलकर नशाखोरी कर गांव में  आफत मचाकर रखी है…
article108_2
Source

यहां पर  अफीम की खेती करने वाले किसानों को एक नए तरीके की समस्या से जूझना पड़ रहा है… दरअसल अफीम की खेती को काटने के बाद उसमें से एक अलग तरह का तरल पदार्थ निकलता है, जिसे चूसने के लिए काफी ज्यादा संख्या में ताते खेतों में आकर बवाल मचा रहे हैं….
article108_3
Source

किसानों ने बताया कि तोते इस नशीले तरल पदार्थ का सेवन कर पेड़ों पर जाकर बैठ जाते हैं….जिसके कुछ देर बाद वह पेड़ से नीचे गिर जाते हैं या फिर किसी अन्य पक्षी के द्वारा मारे दिए जाते हैं….
article108_4
Source


वैसे तो इस  इलाके में पक्षियों की कई तरह की प्रजाति हैं लेकिन इस तरल नशीले पदार्थ की ओर सिर्फ तोते ही आकर्षित होते हैं….
article108_5
Source

तो वहीं नशाखोरों तोतों की हरकतों ने गांव वालों को काफी परेशान किया हुआ है… जिस के कारण वह खेती भी नहीं कर पा रहे…..
article107_6
Source



Loading...
loading...