article16_5

भारत के मशहूर धार्मिक स्थान जहां जाकर आपकी आत्मा हो जाएगी रुमानी

किसी भी धर्म में किसी भी धर्म को
बनाये रखने और बढ़ाने के लिए
दूसरों को मारना नही बताया गया !

यह चंद लाइनें भारत देश की अलग-अलग विचारधारा पर सटीक बैठती है…इस देश की भूमि आस्था की भूमि है…यहां पर कई धर्म,संस्कृतियां, रीति-रिवाज और परंपराएं एक साथ मौजूद है… यहां बड़ी संख्या में मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे और चर्च है जिन सबकी अपनी- अपनी मान्यता है उनमें से कुछ ऐसे विशेष तीर्थ स्थ्ल है जहां हर धर्म के लोग जाकर अपनी मनोकामना पूर्ण करने के लिए वहां शीश झुकाते है….
article16_1
Source

1) वैष्णो देवी – पहाड़ों वाली वैष्णों देवी माँ सबकी मनोकामाना पूर्ण करती हैं.. लाखों करोड़ों की आस्था की धरोहर जम्मू- कश्मीर के त्रिकूटा पर्वत पर स्थित है….
article16_2
Source

2) स्वर्ण मंदिर – शुद्ध सोने से बना सिक्खों का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हरमंदिर साहिब को दरबार साहिब,स्वर्ण मंदिर और गोल्डन टेंपल के नाम से भी जाना जाता है…अमृतसर में स्थित इस मंदिर को सबसे पहले 16वीं शताब्दी के पाँचवें सिक्ख गुरु, गुरु अर्जुन देव जी ने बनवाया था…
article16_3
Source

3) अजमेर शरीफ – दरगाह शरीफ या अजमेर शरीफ के नाम की यह प्रसिद्ध दरगाह राजस्थान के अजमेर में स्थित है… इस दरगाह में हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की मजार हैं.. इस पाक जगह का सिर्फ नाम लेने से ही रुहानी सकून का एहसास होता है…
article16_4
Source

4) शिरडी साई बाबा – महाराष्ट्र के अहमदनगर में साई का विशाल मंदिर है.. जिसे शिरडी के नाम से जाना जाता है.. यह साई की धरती है जहां साई ने अपने दर पर आने वाले किसी भी भक्त को कभी भी खाली हाथ नही जाने दिया…
article16_5
Source

5) सांताक्रूज बेसिलिका – केरल में स्थित इस चर्च को पुर्तगालियों ने बनाया था.. जिसे बाद में इसे पोप पॉल चतुर्थ ने इसे कैथेड्रल का दर्जा दिया…
article16_6
Source

6) तिरुपति वेंकटेश्र्वर मंदिर – आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिलें के तिरुपति में स्थित भगवान विष्णु के मंदिर की महानता को कौन नही जानता… इस मंदिर को सात पर्वतों के नाम से भी जाना जाता है.. इस मंदिर में दक्षिण भारत की वास्तुकला और शिल्पकला का बेहद खूबसूरत संगम देखने को मिल सकता है…
article16_7
Source

7) हेमकुंट साहिब – गुरुद्वारा हेमकुंट साहिब उत्तराखण्ड के चमोली जिले में स्थित है… हेमकुंट साहिब एक बर्फीली झील के किनारे सात पहाड़ो के बीच विराजमान है…इन सात पहाड़ों पर निशान साहिब झूलते है…यह जगह दसवें सिख गुरु श्री गुरु गोबिंद सिहं जी को समर्पित है..
article16_8
Source

8) हजरत निज़ामुद्दीन दरगाह – सूफी संत हजरत निज़ामुद्दीन औलिया की दरगाह दिल्ली में स्थित है…यह मकबरा सूफी काल की एक पवित्र दरगाह है…यह दरगाह ठीक वैसे ही है जैसे शरीर में बसा दिल…यह दरगाह इंसानियत,भाईचारे और प्यार की सीख देती है…
article16_9
Source

9) महाबोधि मंदिर बोधगया – इस मंदिर की बनावट सम्राट ओशक द्वारा स्थापित स्तूप के समान है…यह मंदिर बिहार में स्थित है…यह एक पवित्र बौद्ध धार्मिक स्थल हैं जहां गौतम बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ था….
article16_10
Source

क्या आप भी इन तीर्थ स्थलों पर गए है अगर नही गए तो जिंदगी में एक बार जरुर जाएं और वहां जाकर ईश्वर से अपना सीधा नाता जोड़े…क्योंकि एक दिन सब इस मिट्टी में मिल जाना है रहेगा तो सिर्फ आपके जरिए किया गया अच्छा कर्म….



Loading...
loading...