article27_4

नटखट बचपन की चटपटी यादें

बचपन की यादें भी क्या यादें थी एक रुपया हाथ में आया नहीं तो मानो ऐसा लगता की पूरी दुनिया की खुशियाँ मुठ्ठी में आ गई हो…. क्या नही खरीद सकते थे इस एक रुपये के सिक्के से…माना अब जमाना बदल गया है लेकिन 90 के दशक की बात ही कुछ ओर थी…उस दशक में जो कैडीज मिलती थी आज भी अगर सामने आ जाएं तो जी ललचाना शुरु हो जाएगा फिर चाहे आप जिंदगी के किसी भी पड़ाव में क्यों ना हो…तो लेते उन चटपटी यादों को एकबार फिर मजा…
article27_1
Source

1) फैनटम स्वीट सिगरेट – बचपन में इस सिगरेट के कश का मजा भला कौन भूल सकता है… यह मीठी सिगरेट हाथ मे स्टाइल से पकड़कर धूम्रपान करने का नाटक करना बेहद रोमांचक था…
article27_2
Source

2) बिग बबूल – टूटी- फ्रूटी स्वाद का यह च्युइंग गम आज भी याद किया जाता है..यह च्युइंग गम बड़ा गुब्बारा बनाने के लिए बिल्कुल सही था…  
article27_3
Source

3) किस्मी बार- पार्ले की यह टॉफी का स्वाद इलायची जैसा था और कीमत सिर्फ एक रुपया..यह वो रुपया था जिसके मिलते ही हम पूरी दुनिया की खुशियाँ खरीदने की सोच कर खुश हो जाते थे…
article27_4
Source

4) स्वाद- यह पाचन कैंडी भुरे और सफेद रैपर में पैक थी…इसका कुछ खट्टा-मीठा स्वाद ना सिर्फ बच्चों के बल्कि बड़ों के दिलों पर भी राज करता था…
article27_5
Source

5) ऑरेंज कैंडी- इस कैंडी का ना सिर्फ स्वाद हमारी जीभ में रहता था बल्कि यह रंग भी छोड़ देती थी …ताकि मम्मी आसानी से हमारी चोरी पकड़ पाएं…
article27_6
Source

6) रोला-कोला- यह कैंडी शून्य कैलोरी के साथ रीयल कोले का स्वाद देती थी…यह गोल आकार की कैंडी देखने में भी बेहद यम्मी थी…
article27_7
Source

7) बूमेर बबल गम- यह कोई आम च्युइंग गम नही था …यह बच्चों के लिए बूम बूम बुमेर था…इसके साथ मिलने वाले मुफ्त टैटू हर बच्चा अपने हाथ या मुहँ पर लगाना पंसद करता था…
article27_8
Source

8) पॉप्सिकल्स – यह रंगीन पॉप्सिकल्स हर जायके में मौजूद थे…इसमें काला खट्टा,संतरा, आम और यहां तक की नींबू का स्वाद भी शामिल था… यह पॉप्सिकल्स आखिरी तक चूसने में बेहद मजा आता था…

Popsicles
Source

9) जम्बो गमबॉल्स – यह रंगीन गमबॉल्स बचपन की रंगीन यादों की तरह रंगीन थे…
article27_10
Source

हो ना हो पर 90 के दशक का मजा इन कैंडीज की वजह से बच्चों के लिए यादगार था….



Loading...
loading...